મુખ્યમંત્રી કિસાન સહાય યોજના 2021: Kisan Sahay Yojana Gujarat List, Status News Update

आगे शेयर जरूर करना

Kisan Sahay Yojana Gujarat | Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana| मुख्‍यमंत्री किसान सहाय योजना ऑनलाइन आवेदन| Gujarat Kisan Sahay Yojana Online Form| गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना

मुख्यमंत्री विजय रूपाणी ने खरीफ सीजन में प्राकृतिक आपदाओं के कारण हुई फसल को हुए नुकसान के खिलाफ राज्य के लाखों किसानों की मदद के लिए वर्ष 2021 के लिए मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना को मंजूरी दी है। गुजरात सरकार हमेशा राज्य के लाखों किसानों के पक्ष में रही है और प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसलों को नुकसान होने पर किसानों को सहायक पैकेज भी प्रदान करती रही है।

Kisan Sahay Yojana Gujarat: गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना की शुरुआत गुजरात के मुख्यमंत्री श्री विजयभाई रुपानी जी ने 10 अगस्त 2020 को की थी। इस योजना का मुख्य उद्देश्य गुजरात में रहने वाले किसानो भाईओ को उनकी फसलों को प्राकर्तिक आपदाओं के कारण होने वाले नुकसान की भरपाई के लिए आर्थिक रूप से सहायता देना है। इस योजना के तहत 20000 और 25000 हजार रूपए का मुआवजा देने का निर्णय किया गया है।

kisan sahay yojana gujarat
kisan sahay yojana gujarat 2021

तो आज हम इस आर्टिकल में आपको Mukhya mantri Kisan Sahay Yojana के बारे में पूरी जानकारी प्रदान करने वाले है

Kisan Sahay Yojana Gujarat

Kisan Sahay Yojana Gujarat योजना को गुजरात में रहने वाले किसानो के हित में शुरू की गई है। इस योजना एक फसल योजना है जिस किसानो को प्राकृतिक आपदा के कारण अपनी फसल में नुकसान आया है उन लोगो को इस Mukhya mantri Kisan Sahay Yojana के तहत नुकसान की भरपाई की जाएँगी।

  • राज्य में खरीफ 2020 के लिए दिनांक 10/8/2020 जारी जीआर के अनुसार “मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना” लागू की गई है।
  • किसानों द्वारा कोई मौद्रिक हिस्सा नहीं और योजना में राज्य की सभी खरीफ फसलों को शामिल किया गया है।
  • 3 जोखिमों को कवर करने वाली योजना- सूखा, भारी वर्षा और बेमौसम वर्षा
  • वन अधिकार अधिनियम के तहत कृषि भूमि रखने वाले और सनद धारण करने वाले राज्य के सभी किसानों को लाभार्थी किसान माना जाएगा।
  • ३३% से ६०% की फसल हानि के लिए, रुपये की सहायता। 20000/हे. और 60 प्रतिशत से अधिक फसल हानि के लिए रु. 25000/हे. खरीफ सीजन में अधिकतम 4 हेक्टेयर के लिए पात्र होंगे।
  • किसान स्वतंत्र रूप से भी एसडीआरएफ का लाभ उठा सकते हैं।
  • किसानों के ऑनलाइन आवेदन प्राप्त करने के लिए भूमि अभिलेख और सीएम डैशबोर्ड से जुड़ा एक पोर्टल बनाया जाएगा।
  • स्वीकृत सहायता का भुगतान सीधे किसान के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से किया जाएगा।
  • लाभार्थी किसानों के प्रश्नों के समाधान के लिए एक विशेष शिकायत निवारण तंत्र स्थापित किया जाएगा।

Sort Details : Kisan Sahay Yojana Gujarat 2021

योजना का नामKisan Sahay Yojana Gujarat
द्वारा लॉन्च किया गयागुजरात के मुख्यमंत्री ने
संचालित विभागकृषि, किसान कल्याण एवं सहकारिता विभाग
उद्देश्यकिसानो को मुआवज़ा प्रदान करना
लाभार्थीराज्य के किसान
आवेदन का तरीकाOnline
ऑफिसियल वेबसाइटकिसान सहाय योजना गुजरात

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana की विशेषताएं

इस योजना को गुजरात के अभी के मुख्यमंत्री श्री विजय रुपानी ने हरी जंडी दे दी है। इस योजना के माध्यम से जो भी किसान के प्राकृतिक आपदा जैसे की सुखा पड़ना, अधिकतम बारिश होना, बेमौसम वर्षा आदि के कारण खरीफ सीजन में पाक को नुकसान होता है उन सभी को इस Kisan Sahay Yojana Gujarat के तहत सरकार द्वारा मदद की जाएँगी। सरकार द्वारा उन सभी को आर्थिक रूप से 33% से 60% तक की सहायता प्रदान करेगी।

और ये भी पढ़े : ગ્રામ પંચાયતની સૂચિ અને સંપૂર્ણ વિગતો

यह आर्थिक सहायता ₹20000 प्रति हेक्टेयर की दर से सहयता प्रदान की जाएगी। अधिकतम 4 हेक्टेयर तक इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना के अंतर्गत गुजरात के सभी छोटे बड़े और सीमांत किसान इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं। प्रदेश के लगभग 53 लाख किसानों को इस योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए किसानों को ना ही किसी प्रीमियम के भुगतान करने की आवश्यकता है और ना ही कोई पंजीयन शुल्क जमा करने की आवश्यकता है।

 Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana का उद्देश्य

इस योजना का मुख्य उदेश्य है राज्य के किसानो का हित, किसानो को अपने नुकसान की भरपाई देना और किसानो को बोज मुक्त करना।  गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना के अंतर्गत गुजरात के सभी छोटे बड़े और सीमांत किसान इस योजना का लाभ ले सकता है। प्राकृतिक आपदा जैसे की सुखा पड़ना, अधिकतम बारिश होना, बेमौसम वर्षा आदि के कारण खरीफ सीजन में पाक को नुकसान होता है उन किसानो को इस योजना के तहत प्रति हेक्टर 20000 रूपए से 25000 रूपए तक की धनराशि की सहायता की जाएँगी।

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana में किन परिस्थितियों में लाभ मिलेगा?

सूखा पड़ना : यदि गुजरात के किसी भी जिले में सूखा पड़ा है यानि के बारिस नहीं हुई हो किसका मतलब है की जिले में 10 इंच से कम बारिश हुई हो या फिर मानसून के मौसम में बारिश पड़ी थी ना हो। ऐसी परिस्थिति के कारण फसल को नुकसान पहुंचा है तो इस स्थिति में मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना क्लेम की जा सकती है।

भारी वर्षा होने पर: यदि गुजरात के किसी भी जिले में भारी वर्षा हुई हो यानि की उसका मतलब है की जिले में 35 इंच या फिर 48 घंटे तक लगातार बारिश हुई हो। ऐसी परिस्थिति के कारण फसल को नुकसान पहुंचा है तो इस स्थिति में मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना क्लेम की जा सकती है।

बेमौसम बारिश होने पर: यदि गुजरात के किसी भी जिले में बेमौसम बारिश हुई हो यानि के बेमौसम बारिश हुई हो किसका मतलब है की जिले में 15 अक्टूबर से लेकर 15 नवंबर तक 50 एमएम से ज्यादा बारिश 48 घंटे तक पढ़ी हो।। ऐसी परिस्थिति के कारण फसल को नुकसान पहुंचा है तो इस स्थिति में मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना क्लेम की जा सकती है।

Require Document: Kisan Sahay Yojana Gujarat

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • निवास प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो  
  • बैंक पासबुक
  • योजना के लिए आवेदन करने के लिए आपके पास वन अधिकार अधिनियम के तहत 8-ए धारक किसान खाता होना चाहिए।
  • योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए राज्य का निवासी होना आवश्यक है।

PM Kisan Sahay Yojana की लाभार्थी सूची

लाभार्थी सूची तैयार करने के लिए कुछ नियम चुने गए हैं। प्रक्रिया नीचे वर्णित है।

Step-1: क्षति की डिग्री के अनुसार जिला कलेक्टर द्वारा तालुकाओं की एक सूची तैयार की जाएगी।
Step-2: उसके बाद राजस्व विभाग संबंधित तालुकों को आवंटित धन प्रदान करेगा।
Step-3: एक विशेष सर्वेक्षण दल 15 दिनों में सर्वेक्षण करने के लिए प्रभावित क्षेत्रों का दौरा करेगा।
Step-4: सर्वेक्षण के बाद जिला विकास अधिकारी किसानों के नाम की घोषणा करेंगे और उन्हें लाभार्थी सूची में जोड़ा जाएगा।
Step-5: सूचियाँ दो प्रकार की होंगी- एक सूची 33 प्रतिशत से 60 प्रतिशत नुकसान के लिए तथा दूसरी 60 प्रतिशत से अधिक नुकसान के लिए होगी।

Kisan Sahay Yojana Gujarat Registration Form [Online Apply]

अभी के समय पर Kisan Sahay Yojana Gujarat Registration [Online Apply] की प्रक्रिया को ऑफलाइन रखा गया है आपको इस योजना का लाभ लेने के लिए और आवेदन करने के लिए आपको उपरोक्त सभी दस्तावेजों के साथ ई-ग्राम केंद्र पर जाना होगा। लेकिन आने वाले कुछ समय के बाद इस योजना के लिए एक ऑनलाइन पोर्टल की सुविधा उपलब्ध कराइ जाएँगी। राज्य के मुख्यमंत्री ने घोषणा की है कि यह योजना आगामी खरीफ सीजन में लागू होने जा रही है. गुजरात का राजस्व विभाग जल्द ही आवेदन की प्रक्रिया में तेजी लाने के लिए एक पोर्टल लॉन्च करेगा। माना जा रहा है कि योजना की मदद से किसानों की समस्या का समाधान हो जाएगा।

यह भी पढ़े: Free Silai Machine Yojana 2021[Gujarat] 

लाभार्थी को अपनी रकम कब मिलेंगी?

इस Kisan Sahay Yojana Gujarat में, जिला स्तर से सहायता की राशि का भुगतान किसानों के प्रारंभिक मूल्यांकन और आवेदन के साथ-साथ तालुका स्तर से अनुमोदन के आधार पर लाभ की गणना के बाद सीधे लाभार्थियों के बैंक खाते में डीबीटी के माध्यम से किया जाएगा। . योजना के सुचारू क्रियान्वयन के साथ-साथ किसानों के मार्गदर्शन के लिए एक टोल फ्री नंबर भी प्रदान किया गया है। इस योजना के अलावा, एसडीआरएफ योजना के प्रावधानों के अनुसार लाभ के लिए पात्र किसान लाभार्थी भी पात्र होंगे।

गुजरात सरकार द्वारा किसानो को दी गई सहाय के रिकॉर्ड

इसके अलावा राज्य के किसानों को वर्ष 2018-19 में विभिन्न प्राकृतिक आपदाओं से निपटने के लिए 1673 करोड़ रुपये की सहायता के साथ-साथ 2017-18 में मुख्यमंत्री रूपाणी के नेतृत्व में किसान हितकारी राज्य सरकार ने खरीफ सीजन के दौरान प्राकृतिक आपदाओं के कारण फसल के नुकसान के खिलाफ पृथ्वी के पुत्रों की मदद करने के लिए वर्ष 2021 के लिए मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना को मंजूरी दी है। यह पहल निश्चित रूप से राज्य के किसानों की मदद करेगी और निकट भविष्य में किसानों की आय को दोगुना करने में गुजरात के लिए नई उम्मीदें भी स्थापित करेगी।

Kisan Sahay Yojana Gujarat PDF Form Download

अगर आप Kisan Sahay Yojana Gujarat PDF Form Download करना चाहते है तो निचे दिए गए बटन पर क्लिक करे

और ये भी पढ़े : સાત પગલા ખેડૂત કલ્યાણ યોજના

FAQ’s- Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana ( Kisan Sahay Yojana Gujarat)

इस Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana के लिए पात्र किसान कौन है?

राज्य भर में राजस्व रिकॉर्ड में पंजीकृत सभी 8-ए धारक किसान खाताधारक और वन अधिकार अधिनियम के तहत मान्यता प्राप्त किसान मुख्यमंत्री किसान सहायता योजना के तहत पात्र होंगे।

गुजरात मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना के लिए आवेदन कैसे करें

Kisan Sahay Yojana Gujarat के लिए ऑनलाइन आवेदन करने के लिए, किसानों को आवश्यक दस्तावेजों के साथ ई-ग्राम केंद्र पर जाना होगा, जहां आवेदन एक आधिकारिक योजना पोर्टल के माध्यम से किए जाएंगे।

Mukhyamantri Kisan Sahay Yojana के तहत प्रदान की जाने वाली वित्तीय सहायता राशि कितनी है?

गुजरात सरकार रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान करेगी। 33 % से 60 % की हानि के मामले में 20000 प्रति हेक्टेयर और रु। नुकसान के मामले में 25,000 प्रति हेक्टेयर अधिकतम 4 हेक्टेयर के लिए 60% से अधिक है।

मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना क्या है?

मुख्यमंत्री किसान सहाय योजना किसानों को वित्तीय सहायता प्रदान करने के लिए गुजरात सरकार द्वारा शुरू की गई एक नई फसल बीमा योजना है।


आगे शेयर जरूर करना

Leave a Comment